इग्नोर (Ignore) करने के तरीके, किसी को नज़रअंदाज कैसे करें

हमें कभी न कभी और कहीं न कहीं कोई ऐसा मिल ही जाता है, जिसे हम इग्नोर करना चाहते हैं. लेकिन सही मायने में किसी को इग्नोर करना एक मुश्किल काम है. इत्तिफ़ाक़ की बात तो देखिये कि जिसे आप जितना अधिक इग्नोर करना चाहेंगे, वह उतना ही अधिक बार आप से मिलेगा. वह आपसे अनायास ही बात करने को आ धमकेगा, और ऐसी-ऐसी बातों की शुरुआत कर देगा, जिन बातों से आपका कोई लेना-देना नहीं और ना ही उन बातों में आपकी कोई दिलचस्पी होती है, और खासकर जब आप किसी जरूरी काम में व्यस्त हों उस वक्त ऐसे व्यक्ति का आना और आप पर उस वक्त क्या गुजर रही होगी इसका अनुमान लगाता हूँ तो हंसी भी आती है और आपकी पीड़ा को भी महसूस करता हूँ.

यह भी पढ़ें : Online chatting with a brave woman in Hindi

इग्नोर कैसे करे

आपकी मजबूरी है कि ना चाहते हुए भी फॉर्मेलिटी के लिए ही सही लेकिन आपको उसकी बात सुननी पड़ती है. इस वजह से आपका वक्त भी बर्बाद हो रहा होता है और कुछ ज़रूरी काम भी प्रभावित हो रहे होते हैं. अब समस्या है कि करे तो करे क्या ? ऐसे लोगों से कैसे खुद को बचाएं ? ऐसे इंसान को कैसे इग्नोर करें ? इस तरह के कई सवाल आपके मन में आते होंगे खासकर तब जब ऐसे महानुभाव आप के पास पधारते होंगे. ऐसे लोगों को इग्नोर करने के लिए आपको कुछ ऐसा करना होगा कि साँप भी मर जाए और लाठी भी ना टूटे. इग्नोर करने की लिए कुछ ऐसी ट्रिक लगानी होगी जिससे उसे बगैर पता चले आप हमेशा के लिए इग्नोर कर सकें.

यह भी पढ़ें : Advice on one night stand in Hindi

इग्नोर करने के लिए क्या करें

किसी को इग्नोर करने का यह सबसे अच्छा तरीका है. मान लीजिये घर में बैठकर आप कोई दिलचस्प मूवी देख रहे हैं, अचानक डोर बेल चीखने लगती है. आप टीवी पर नजरें जमाएं, डोर की तरफ बढ़ते हैं यह सोचते हुए कि ‘कौन आ गया?’. आप दरवाजा खोलते हैं, सामने खड़े व्यक्ति को देखकर आप अंदर ही अंदर झल्ला उठते हैं, लेकिन उसकी मुस्कराहट और अभिवादन का जवाब आपको भी मुस्कुराते हुए और अभिवादन करके उसे अंदर आने को कहना पड़ता है. टीवी को म्यूट करके उसके बॉरिंग स्पीकर को आपको मजबूरी में सुनना पड़ता है. आप अपने शिष्टाचार से बंधे होते हैं और ऐसे व्यक्ति को इग्नोर नहीं कर पाते हैं.

यह भी पढ़ें : Successful marriage tips – सफल विवाह के टिप्स

इग्नोर करने के लिए खुद को व्यस्त कर लें

जबकि आपको चाहिए था कि उसे देखते ही आप उसके आने की वजह पूछ लेते. आपको उस वक्त यह दिखाना चाहिए कि इस वक्त आप बहुत जल्दी में हैं. इग्नोर करने के लिए कुछ भी बहाना होना चाहिए था. जैसे ‘सॉरी इस वक्त मैं बहुत जल्दी में हूँ, फ्री होकर आराम से बैठे ?’ अगर सामनेवाले से जवाब मिल जाए तो ठीक है ना भी मिले तो आप झट से दरवाजा बंद कर लें.

यह भी पढ़ें : फ्रेंड शिप टूटने के ये हैं मुख्य वजह जानकर हैरान हो जायेंगें

कुछ तो ऐसे भी ढीठ लोग होते हैं जो आपके इतना कहने पर और चिपक जाएंगे ‘क्या हुआ ? क्यों परेशान हो ? नहीं-नहीं ऐसे वक्त में मैं भी तुम्हारे साथ हूँ’ कहते हुए आपको साइड करते हुए घर में घुस आयेंगें. ऐसे व्यक्ति से निपटने के लिए उसे बैठे रहने दें और टीवी बंद कर दें. घर के दूसरे कमरे में चले जाएँ. उस अनचाहे मेहमान को इग्नोर करना बिलकुल ना भूलें, वह बैठा है तो उसे बैठे ही रहने दें. हो सकता है कुछ देर में आपको आवाज़ भी लगाए, आप खुद को व्यस्त दिखाते हुए उसके पास आये और उससे आग्रह करें कि वह आपके घर में बैठे हैं और आप समय नहीं दे पा रहे हैं, क्यों न बाद में फिर कभी मिलें. आपके इस आग्रह को हो सकता है कि वह स्वीकार कर ले और बिन बुलाये मेहमान खुद ही रवाना हो लें.

यह भी पढ़ें : Happy Happy be Happy Don’t worry be Happy

ऑफिस में कैसे इग्नोर करें

इस तरह के प्राणी आपको ऑफिस में भी मिल जाएंगे, लेकिन ऑफिस में ऐसे लोगों को इग्नोर करना कुछ मुश्किल काम है. खासकर अगर वह व्यक्ति आपके विभाग में ही हो तब तो और भी मुश्किल होता है. आपको वैसे इंसान के साथ आठ से दस घंटे समय काटना होता है, वह भी एक साथ काम करते हुए. इस तरह के हालात से घबराएं बिल्कुल नहीं. आप कोशिश यह करें कि अपने-अपने काम को बाँट लें, और खुद को आप अपने हिस्से के काम में व्यस्त कर लें. वैसे काम के वक्त वह आपसे बेकार की बातें तो नहीं करेगा, लेकिन फिर भी आप खुद को व्यस्त ही रखें क्योंकि हो सकता है आपको फ्री देखकर, वह अपना स्पीकर चालू भी कर दें.

यह भी पढ़ें : Quotes on Love and Friendship with Images

लंच पर जाने का ऐसा समय निश्चित करें जो उससे अलग हो. ऑफिस की चाय की चुस्की लेते वक्त भी खुद को व्यस्त ही रखें. अपना ध्यान हमेशा अपने कंप्यूटर या लैपटॉप स्क्रीन पर ही केन्द्रित रखें. जरूरत पड़ने पर उसे इग्नोर करने के बजाय उससे मिलें और अपने मतलब की बात जरूर करें,लेकिन आपको जब लगे कि काम की बात ख़त्म हो चुकी है और अब बकवास की शुरुआत है, ऐसे में उसकी बात को रोकते हुए कहें कि वह इस बात को आपसे जरूर बताए लेकिन फिर कभी क्योंकि इस वक्त आप जल्दी में हैं. आपको काम निपटा कर जल्दी घर लौटना है.

यह भी पढ़ें : Female interesting jealousy sign in Hindi

क्या इग्नोर करना उचित है

किसी को इग्नोर करने से पहले एक बार जरूर सोचें कि क्या इग्नोर करना जरूरी है? क्योंकि जो व्यक्ति आपको उबाऊ लगता है, हो सकता है वह आपको अपना समझकर आपके पास आता हो. इसलिए किसी को भी इग्नोर करने से पहले उसकी भावनाओं को जरूर समझें. किसी की उपेक्षा करने से पहले, उसे इग्नोर करने से पहले, सुनिश्चित कर लें कि क्या सचमुच में उस इंसान के साथ ऐसा करना चाहिए या नहीं. यह भी हो सकता है कि जिसे आप बोरिंग समझकर इग्नोर कर रहे है, उसे आप से कुछ अधिक लगाव हो और इसी वजह से वह आपके साथ अधिक से अधिक वक्त गुजारना पसंद करता हो. इसलिए इग्नोर करने से पहले उसकी भावनाओं को अच्छी तरह से समझ लें, क्योंकि दुनियां भीड़ से भरी हुईं है लेकिन चाहने वाला, आपको प्यार करने वाला या फिर आपके लिए सोचनेवाला कोई मिल जाय तो ऐसा इंसान सचमुच अनमोल होता है.

Ignore करने के लिए और अधिक जानकारी यहाँ से भी ले सकते है.

Advertisements

Leave a Reply