पति पत्नी के झगड़े Pati Patni Ke Jhagde

पति पत्नी का पवित्र रिश्ता

पति पत्नी के रिश्ते का ध्यान आते ही एक गुदगुदी सी होने लगती है. एक अजीब सी उमंग और मस्ती का एहसास होने लगता है. प्यार भरी नोंक झोंक और रोमांटिक लम्हों के ख्याल आने लगते है. बहुत ही प्यारा रिश्ता है यह… पति पत्नी का पवित्र रिश्ता सचमुच बहुत प्यारा होता है… पति पत्नी के इस रिश्ते में पूरी दुनिया समायी हुई है. अगर पति पत्नी का यह पवित्र रिश्ता न होता तो दुनिया में कोई भी रिश्ते नहीं होते. अगर पति पत्नी में सम्बन्ध ना होते तो इंसान सिर्फ इंसान ही रह जाता… एक ऐसी दुनिया होती जहाँ रिश्ता नाम का यह शब्द अर्थहीन रह जाता.

पति पत्नी का रिश्ता न होता तो यह संसार तो होता… इस संसार में शायद इतने ही लोग भी होते क्योंकि इंसानों को जन्म देने के लिए एक पुरुष और एक स्त्री की ज़रूरत होती है. ये पुरुष स्त्री, बिना पति पत्नी बनें भी इंसान को जन्म दे सकते थे.

Pati Patni Ke Jhagde

‘पति पत्नी’ ये दो लफ्जों को सुनते ही मन में एक साथी के भाव आने लगता है. उम्र भर का साथ निभाने वाला एक प्यारा साथी… तभी तो पति पत्नी का यह पवित्र रिश्ता, जीवन साथी भी कहलाता है. ये जीवन साथी, साथ मिलकर बसातें हैं एक घर…. बसाते हैं अपनी दुनिया… उनकी इस पवित्र दुनिया में होते है कई रिश्ते, प्यारे – प्यारे रिश्ते… अनमोल रिश्ते… इन रिश्तों में हैं बंधन… संवेदनाओं का प्यारा सा बंधन… इन्हीं रिश्तों की ख़ूबसूरती से ज़िन्दगी सजाई जाती है… ज़िन्दगी सवांरी जाती है,  और इसी ज़िन्दगी से बनता है यह अद्भुत और विशाल संसार… खुशहाल संसार… लेकिन इस प्यारे से खुशहाल संसार को जब हमारी झूठी अहंकार की कालिख लग जाती है तो बन जाता है एक बदबूदार और बदसूरत संसार और ज़िन्दगी हो जाती है बद से भी बदतर…

पति पत्नी का पवित्र रिश्ता – Husband wife के बीच ऐसी chemistry हो तो मज़ा आ जाए

पति पत्नी के झगड़े

पति पत्नी के झगड़े

पति पत्नी के जोड़े में से किसी एक की छोटी गलती… और अनजाने में की गयी एक छोटी भूल, पूरी ज़िन्दगी को तबाह कर सकती है. उनकी यह छोटी सी एक गलती या एक भूल बन जाता है एक बड़ा झगड़ा, और झगड़ा तो झगड़ा ही है, जिसका अंत कभी सुखान्त नहीं होता. झगड़े का परिणाम हमेशा बुरा ही होता है, कभी – कभी इतना बुरा कि एक हँसता खेलता परिवार पूरी तरह तबाह हो जाता है… एक बसा – बसाया घर इस झगड़े की आग में झुलस जाता है. कई बार यह झगड़े की आग इतना विशाल रूप धारण कर लेती है की इसमें कई ज़िंदगियाँ भी समाँ जाती है और समाप्त हो जाती हैं.

Pati or Patni Ka Rishta : Husband-wife में friendship होने चाहिए या नहीं

पति पत्नी के झगड़े क्यों होते हैं ?

पति पत्नी के झगड़े के परिणाम जब इतने विशाल और विनाशक हो सकते हैं तो क्यों करते हैं ये आपस में लड़ाई. सभी को पता है कि झगड़ा हमेशा दुखदायी ही होता है, यह जानते समझते भी पति पत्नी छोटी – छोटी बात पर क्यों झगड़ने लगते हैं ? जहाँ तक मैं समझता हूँ इस सवाल का जवाब लगभग हर किसी के पास है. पति पत्नी के झगड़े की वजह लगभग एक साधारण से साधारण इंसान को भी पता होती है. लेकिन हम उस तरफ सोचना ही नहीं चाहते… झगड़े की वजह पर हमारा ध्यान कभी नहीं जाता और अपने अहंकार को खुश करने के लिए वैवाहिक जोड़े दोनों मिलकर कूद पड़ते है एक नफरत की आग में.

Pati or Patni Ka Rishta : Happy Marriage के लिए एक ही महिला से 4 शादियां

पति पत्नी के झगड़े की वजह

पति पत्नी के झगड़े की वजह

हर वैवाहिक जोड़े को आपस के झगड़े की वजह को टटोलना चाहिए, क्योंकि जब वजह पता होगी तो झगड़े की आग सुलगाने की जगह, इसकी वजह को मिटाना बेहतर समझेंगे. झगड़े की कई अनगिनत वजह हो सकती हैं जिनमें से कुछ ऐसे भी हैं जिसे मिटाना बहुत ही आसान हैं, आइए कुछ ऐसे ही झगड़े की वजहों पर ध्यान दें.

Pati or Patni Ka Rishta : शादी इसे कहते है, विवाह पर कुछ शुभ बातें

पति पत्नी के शारीरिक सम्बन्ध

पति पत्नी के झगड़े की एक मुख्य वजह है शारीरिक सम्बन्ध. शारीरिक सम्बन्ध बहुत मायने रखता है पति पत्नी के पावन रिश्ते में. इस रिश्ते में शारीरिक सम्बन्ध इतना मह्त्व रखता है… इतना महत्व रखता… कि समझ लीजिये यह शारीरिक सम्बन्ध जैसा सम्बन्ध सिर्फ पति पत्नी के रिश्ते के लिए ही बनाए गए हैं. सामाजिक और कानूनी तौर पर शारीरिक सम्बन्ध सिर्फ पति पत्नी के बीच ही वैध है, और यह बात हम सभी को पता है, सभी वैवाहिक जोड़े को इस बात की जानकारी है कि शारीरिक सम्बन्ध जैसा रिश्ता सिर्फ वैवाहिक जोड़े के लिए बनाये गए हैं, फिर भी यह पति पत्नी के झगड़े कि मुख्य वजह है. झगड़े की मुख्य वजह यह इसलिए है क्योंकि शारीरिक सम्बन्ध जैसे महत्वपूर्ण सम्बन्ध को हम बिलकुल भी महत्व नहीं देते.

Pati or Patni Ka Rishta : Physical Relations in Husband Wife

पति पत्नी में शारीरिक सम्बन्ध के महत्व

पति पत्नी में शारीरिक सम्बन्ध के महत्व

हमें जो चीजें महत्वपूर्ण लगती हैं हम उनका विशेष ध्यान रखते हैं. जिस चीज़ की हमें सख्त ज़रूरत रहती उसकी उपलब्धता को बनाये रखने के लिए हम इंसान सबकुछ कर गुज़रते हैं. बात जब इंसान की ज़रूरत की हो तो सबसे बड़ी ज़रूरत है हमारी भूख. यह एक ऐसी ज़रूरत है जो कभी पूरी नहीं होती. एक ऐसी आग है यह भूख, जो हमें हर दिन जलाती रहती है… ज़िन्दगी के अंत तक. भूख की जरूरत को पूरी किए बगैर ज़िन्दगी की कल्पना नहीं की जा सकती है. इंसान को ज़िंदा रहने के खातिर अपनी भूख को मिटाना ही पड़ता है…

Pati or Patni Ka Rishta : रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए इन से बचें

पति पत्नी में शारीरिक सम्बन्ध की भूख

पति पत्नी में शारीरिक सम्बन्ध की भूख का महत्व समझने के लिए हमें सबसे पहले भूख को समझना होगा. हमें समझना होगा कि यह भूख इंसान की सबसे बड़ी जरूरत है… ज़िन्दगी की एक बड़ी तृष्णा है… यह, जो कभी पूरी नहीं होती. मन की भूख… तन की भूख… प्यार की भूख… इस भूख को कुछ पलों के लिए मिटाया जा सकता है, इसके बाद यह फिर से मुंह फाड़े हमारे तन और मन में कौतुहल मचाते रहती है और जब तक इस ज़रूरत को पूरा न किया जाए यह हमारे मन मस्तिष्क को खुद से बांधे रखती है. इस भूख को शांत करना हमारा कर्त्तव्य है…

पति पत्नी के झगड़े Pati Patni Ke Jhagde

Pati or Patni Ka Rishta : एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर क्यों होते हैं ? Extramarital affair in India

यह भूख भी है पति पत्नी के झगड़े की एक मुख्य वजह, क्योंकि पुरुष प्रधान मानसिकताओं से भ्रमित होकर अक्सर पति अपनी भूख को शांत कर लेते हैं लेकिन वे भूल जाते हैं कि जैसी आग उनके अंदर लगी है वैसी ही उनकी पत्नी के अंदर भी है. ठीक वैसी ही भूख की एक आग उसकी पत्नी में भी सुलग रही है, लेकिन इसकी परवाह किए बगैर जब एक पति सिर्फ अपनी भूख को मिटाने भर से मतलब रखता तब कैसे हम उम्मीद कर सकते है कि उस पत्नी को बुरा नहीं लगेगा !

Pati or Patni Ka Rishta : Sleeping position से पहचानें अपने relationship

पति पत्नी के झगड़े ख़त्म करने में पति का योगदान 

पति पत्नी के झगड़े ख़त्म करने में पति का योगदान

पति पत्नी के झगड़े ख़त्म करने में पति का एक महत्वपूर्ण योगदान होता है. इसके लिए हर पुरुष को…  हर पति को समझना होगा और उन्हें ध्यान रखना होगा कि महिलायें भी पुरुषों के समान मनुष्य होती हैं. महिलाओं के शरीर भी पुरुषों की तरह ही बनाए गए हैं. उनकी भी अपनी भावनाएं हैं… उनमे भी आकांक्षाएँ हैं… उनकी भी चाहतें हैं… उनके भी वही अरमान हैं जो एक पुरुष के होते है… उनकी भी वही चाहतें हैं जो एक पति की होती हैं. वैवाहिक जोड़े आपस में इन बातों को ध्यान में रखेंगे… एक दूसरे की भूख को शांत करने की भरपूर चेष्टा करेंगे तो विश्वास कीजिये उनके झगड़े की एक बड़ी वजह ख़त्म हो जायेगी.

Pati or Patni Ka Rishta : Long distance relationship में husband की जुदाई बनाये आसान

पति पत्नी के झगड़े की वजह सेक्स फोबिया

पति पत्नी के झगड़े की वजह सेक्स फोबिया

सेक्स फोबिया भी पति पत्नी के झगड़े की वजह हो सकती है. पति पत्नी का पवित्र रिश्ता में तनाव आने की वजह सेक्स का डर भी है. सेक्स फोबिया यानी सेक्स से डरना… यह खासकर महिलाओं में होता है क्योंकि महिलाओं को होश संभालते ही इस तरह की नज़रों का सामना करना पड़ा है… उन्हें हर तरफ वासनाओं का सामना करना पड़ा है… महिलायें डरी – सहमी बड़ी हुई हैं… उनकी परवरिश इस शिक्षा के साथ की गयी है कि उनके अंदर सेक्स एक भयानक और घृणात्मक क्रिया है. उन्हें इस क्रिया से घृणा होती है, लाख चाहतों के बाद भी… वे सेक्स से पूरी तरह से सहज नहीं हो पाती हैं और उनकी यही कमज़ोरी वैवाहिक जोड़े के सम्बन्ध में एक भयानक तूफ़ान लेकर आ सकती है.

Pati or Patni Ka Rishta : Successful marriage tips – सफल विवाह के टिप्स

क्या पत्नी ख़त्म कर सकती है पति पत्नी के झगड़े ?

पत्नी ख़त्म कर सकती है पति पत्नी के झगड़े

पति पत्नी के झगड़े ख़त्म करने के लिए सिर्फ पत्नी ही काफी होती है. पत्नी को अपने पति की सभी शारीरिक और मानसिक जरूरतों का ध्यान रखना होगा अगर सचमुच वह चाहती है कि उनके बीच झगड़ा या मनमुटाव न हो. एक पत्नी को खुद के लिए ना सही पर अपने जीवन साथी के लिए सेक्स की ज़रूरत और उसकी महत्व को समझना होगा. उन्हें समझना ही होगा कि इस तरह की ज़रूरत नेचुरल है… इस ज़रूरत की मापदंड हर इंसान में उसकी शारीरिक और मानसिक अवस्थाओं के अनुसार होती है. पति पत्नी में सम्बन्ध की गहराई बनाये रखने के लिए उन्हें एक दूसरे की ज़रूरतों का ख्याल रखना होगा.

Pati or Patni Ka Rishta : अच्छी पत्नी बनने के आसान टिप्स

पति पत्नी के झगड़े में दोनों का योगदान

पति पत्नी के झगड़े में दोनों का योगदान

अगर गलतियाँ पत्नी की तरफ से हो रही है पति पत्नी के झगड़े में तब भी इसमें पति का भी योगदान होता है. पति पत्नी के झगड़े की वजह अगर पति हैं तब भी इसमें कहीं न कहीं पत्नी की भी हिस्सेदारी होती है. हमेशा दोनों ही ज़िम्मेदार होते हैं पति पत्नी के झगड़े में क्योंकि गलती किसी एक की है और उस गलती को दूसरा सुधारता रहे या इसे नज़रअंदाज़ करता रहे तो कोई झगड़ा हो ही नहीं. पति पत्नी को अपना घर और अपना संसार बसाए रखने के लिए उन्हें एक-दूसरे की भावनाओं का ध्यान रखना होगा… पति पत्नी का पवित्र रिश्ता का मान रखने कि लिए उन्हें एक – दूसरे को अच्छी तरह समझना ही होगा.

 

हस्बैंड वाइफ के रिश्तों को और समझने के लिए क्लिक करें.

Advertisements

Leave a Reply