जोड़ियां बनती है आसमानो में. युगों-युगों से ऐसी मान्यता रही है कि जोड़ी ऊपर से ही बनके आती है. यानी हमारे जन्म लेने से पहले ही हमारे जीवन के रूप रेखा तय कर लिए जाते हैं. जिसे हम किस्मत के नाम से जानते हैं. यानी हमारे किस्मत में क्या हैं? कैसी ज़िन्दगी हम गुजारने वाले हैं? हमारी लाइफ पार्टनर कौन होगा? कैसा होगा? इत्यादि…  अगर यह मान्यता सही है तो फिर ऐसा कैसे हो गया? कैसे एक पति पत्नी सगे भाई बहन निकल गए?

कैसे हो सकता है ऐसा?

अभी कुछ दिनों पहले की बात है. एक पति पत्नी, एक फेमस डॉक्टर के पास गए. परेशानी थी कि 7 वर्ष शादी के हो जाने के बाद भी पत्नी pregnant नहीं हो पा रही थी.

डॉक्टर उनके टेस्ट के लिए, दोनों का blood sample लेकर उन्हें अगली अपॉइंटमेंट दे दिया.

डॉक्टर और लैब तकनीशियन को आश्चर्य हुआ, जब उन्होंने देखा कि पति – पत्नी में दोनों के ही रिपोर्ट बिलकुल same थे. दोनों के बिलकुल एक जैसा प्रोफाइल. बिलकुल एक DNA.

ऐसा कैसे हो सकता है ?

डॉक्टर को विस्वास नहीं हो रहा था. क्योंकि उसने अपने पूरे career में, किसी couple का report ऐसे बिलकुल मिलता-जुलता नहीं देखा था न कभी सुना था. पर सच सामने थी. न चाहते हुए भी इसे झुठलाया नहीं जा सकता था.

डॉक्टर ने पेशेंट रजिस्ट्रेशन फाइल चेक किया तो पाया की दोनों के date of birth एक ही थे.

अगली अपॉइंटमेंट में जब पति पत्नी, डॉक्टर से मिलने आये तो डॉक्टर ने उन्हें, उनके जुड़वाँ होने का संदेह जताया. यह सुनते ही दोनों ठहाके मार कर हंसने लगे. पति ने डॉक्टर से बताया कि ऐसा कई लोगों ने उनपर टिपण्णी की हैं, कि वे बिलकुल जुड़वां लगते हैं. क्योंकि उनके date of birth एक हैं. उनका मिलता-जुलता चेहरा, उनके चाल-ढाल और रहन-सहन सब बिलकुल एक जैसे हैं.

डॉक्टर ने उन्हें बताया कि उसे संदेह नहीं बल्कि पूरा यकीन हैं कि वे दोनों जुड़वाँ ही हैं.

ऐसा सुनते ही दोनों गंभीर और चिंतित होने लगे. पत्नी डॉक्टर से दुबारा टेस्ट करने की जिद्द करने लगी. वह इस भयानक सच को स्वीकार नहीं करना चाह रही थी. उसे लग रहा था, यह बिल्कुल झूठ है. या फिर डॉक्टर का एक भद्दा मज़ाक है.

मुश्किल से दोनों को कण्ट्रोल किया गया.

डॉक्टर उनके family background के बारे में पूछा तो पता चला कि जब वे काफी छोटे थे. दोनों के ही parents, accident में मारे गए थे.

घरवालों ने उन्हें पालने से मना कर दिया और एक अनाथालय में छोड़ आये थे. जहाँ से इन्हे दो अलग-अलग families ने गोद ले लिया. ये बातें उन्हें उनके new parents से पता लगा था. पर उनको कभी ये नहीं बताया गया कि वे जुड़वाँ थे.

उनकी मुलाकात कॉलेज में हुई थी. गजब की बात तो यह है कि दोनों अपने पहली ही मुलाक़ात में एक-दूसरे के काफी करीब आ गए थे. दोनों ही एक-दूसरे से बिलकुल अनजान थे. लेकिन पहली झलक में ही उनका दिल एक-दूसरे के लिए धड़कने लगा था. कुछ ही दिनों में दोनों, एक-दूसरे के बगैर एक पल भी नहीं रह पा रहे थे. जब कॉलेज की vacation हुई तो उनका मिलना कम होने लगा. जिसे ये अब बर्दास्त नहीं कर पा रहे थे. फिर वही हुआ जो नियति को मंजूर था. एक दिन उन्होंने शादी कर ली. शादी के 7 साल गुजर गए. लेकिन पत्नी pregnant नहीं हो पा रही थी. इसी वजह से उनका डॉक्टर के पास आना हुआ. उनकी problems को identify करने के लिए दोनों का ही टेस्ट जरूरी था. लेकिन इन्हें क्या पता थी कि टेस्ट का रिपोर्ट उनके ज़िन्दगी में भूचाल बनकर आएगा.

Advertisements

इस विषय पर हमारी कोशिश कैसी लगी आपको ? अगर पसंद आयी तो अपने दोस्तों से भी इसे share करें. आपको लगता है कि इस विषय पर कुछ और जुड़ना चाहिए तो ज़रूर बताएं… इस पोस्ट के पढ़ने वाले सभी लोगों को इस विषय पर आप भी कुछ कहें. हो सकता है आपके Comment से किसी का भला हो जाए… और हाँ हमारे Facebook पेज को Like करना ना भूलें. आप देखना आपके खूबसूरत Love Life के लिए हम Lucky Charm साबित होंगे. Wish U happy life… 🙂