प्यार क्या होता है ? What is Love in Hindi Pyar Kaise Hota Hai, Pyar Kaise Kare

शब्दों में कहना मुश्किल है कि प्यार क्या होता है. जब ज़िन्दगी ज़न्नत सी लगने लगे तब समझ आती है कि प्यार क्या होता है. प्यार करने वाले को पता है कि प्यार क्या होता है.प्यार एक एहसास है. प्यार के इस एहसास की ज़रूरत ज़िन्दगी में ठीक उतनी ही है जितनी इस ज़िन्दगी को जीने के लिए साँसों की जरूरत होती है. प्यार एक रौशनी है जो हर काले अंधियारे को उजाले में रौशन कर दे.

ये बात और है कि इस प्यार को हम समझ ही नहीं पातें. प्यार की महक, इसकी खुशबू को महसूस ज़रूर कर पाते हैं. हवाओं में उड़ती मदहोश कर देने वाली इसकी महक हमें एक मस्ती में रमा देती है, तब समझ आती है कि प्यार क्या होता है. हम झूम उठते हैं इस प्यार की मदमस्त नशीली फुहारों से. इस जादुई खुशबू वाले फूल को हम ढूँढते रहते हैं. दीवानों की तरह प्यार की तलाश करते फिरते हैं.

हम अपने आँखों की रौशनी से इस दिव्य उजाले को ढूढ़ने का अथक प्रयास करते रहते हैं. अंत में जब इसे ढूँढने में कामयाबी नहीं मिल पाती तो हमारी निराशा इसे मानने से इंकार कर देता है. इसके अस्तित्व पर हमें संदेह होने लगता है. प्रेम को ढूँढने की कोशिश में हमारी नज़रों को कई बार धोखा भी हो जाता है. हमारा मासूम मन उसे ही प्यार समझ बैठता है जो प्यार है ही नहीं. एक ऐसे रूप को हम प्यार समझ बैठते हैं जिसे लोगों ने बदनाम कर रखा है. बदनामी के इन अंधेरों में हम भटकने लगते हैं और दुनिया में होने वाले लड़ाई-झगडे, कलह और ईर्ष्या के मुख्य कारण दुर्भाग्य से इस प्यार को ही समझ बैठते हैं. जबकि असल में ज़िन्दगी का यथार्थ ही प्यार है. प्यार के बिना हमारी ज़िन्दगी में सबकुछ बेरंग और अर्थहीन है.

Read on Love Trainings : गर्लफ्रेंड बनाने के तरीके How to make a girlfriend

प्यार क्या होता है ?

प्रेम परमात्मा है. जहाँ परमात्मा है, वहाँ प्रेम है. ये ब्रम्हांड प्रेम है. हमारी आँखों के माध्यम से देखे जा सकने वाली वो सभी नज़ारें प्रेम हैं. चमकता हुआ सूरज… मुस्कुराती हुई चाँदनी प्रेम है. वह खामोश आसमान… उस विशाल आसमानों में जगमगाते सितारें ही मोहब्बत है. धरती के सभी बाग़ – बगीचे और इन बाग़ों के हर पौधे, सभी नाज़ुक फूलों में मोहब्बत है. हम ज़िंदा इसलिए है क्योंकि हमारी ज़िन्दगी को हम से इश्क है. हमारी ज़िन्दगी का आधार ही मोहब्बत है.

प्यार क्या होता है

Read on Love Trainings : Love Shayari in Hindi & English from Bollywood

हम मुहब्बत उसे मान बैठते हैं जो है ही नहीं. उस स्वार्थ को प्रेम समझ बैठते हैं, जो स्वार्थ हमें निगल लेने के लिए हमेशा अपने विनाशक मुँह को फाड़े हुए बैठा होता है. इसी झूठे मुहब्बत को हासिल करने के लिए पूरी ज़िन्दगी हम एक जंग लड़ते रहते हैं. ज़िन्दगी से जंग लड़ते हैं तरक्की के लिए. ज़िन्दगी से जंग लड़ते हैं मान और मर्यादाओं को हासिल करने के लिए. यह इश्क ही है जो हमारा घर बसाता है और इश्क ही है जो बसे-बसाये घर को आँधी बनकर उड़ा ले जाता है.

Read on Love Trainings : Love Marriage के इन फायदों को जानकर आपका नजरिया बदल जाएगा

प्यार कैसे होता है ?

जिस मुहब्बत को हम देख नहीं सकते, उसके करीब कैसे पहुँच पाएंगे हम ? क्या कहीं चलते-चलते अचानक ही एक झोका बनकर ये हम में समा जाता है ? क्या यह भी एक इन्फेक्शन की तरह होता है ? जैसे सर्दी-खाँसी का इन्फेक्शन या सुख-दुःख का इन्फेक्शन. कोई हँस रहा है तो उसकी हँसी के इन्फेक्शन से प्रभावित हुए बगैर हम खुद को रोक नहीं पाते. ना चाहते हुए भी उसकी हँसी के इन्फेक्शन से मुस्कुराये बगैर नहीं रह पाते हैं हम.

Read on Love Trainings : Quotes on Love and Friendship with Images

प्यार दिल की शोभा है

मुहब्बत दिल से निकलता है, दिल में उतरता है और दिल में ही बसता है. इसे देखने के लिए आँखें ही काफी नहीं हैं. इसे दिल की नज़रों से महसूस किया जा सकता है. इस प्यारे से अहसास को समझने के लिए हमें ज़रूरत है अपने दिल को टटोलने की, दिल में झाँकने की. इसके बाद भी अगर यह महसूस न हो तो समझिये हमारे दिल में बसी एक आग ने इसे ज़ख़्मी कर रखा है. दिल के किसी कोने में घायल मोहब्बत का एहसास कहीं सिसक रहा है… और हम इसे बाहर तलाशते रहें, अपने दिल में कभी झाँका ही नहीं, क्योंकि हमें नहीं पता कि प्यार क्या होता है. अब भी कुछ नहीं बिगड़ा है, क्योंकि दिल में सिसकती प्रेम की भावना में अभी साँसे चल रही है. ज़िंदा है यह. हमें ज़िंदा रहने के लिए, इस प्रेम का जीवित रहना जरूरी है.

pyar kaise kare

Read on Love Trainings : डेटिंग की शुरुआत इंडिया में कैसे हुई जानकर हैरानी होगी आपको

हम इंसान हैं, हमारी इंसानियत को बचाए रखने के लिए, इस घायल प्रेम को स्वस्थ बनाना ही होगा. विश्वास कीजिये… ज़िन्दगी की जान है प्रेम… इसे खुश रखना होगा. इसे खुश रखने के लिए, दिल में धधकती आग को बुझाना होगा. जिस तरह से ताज सर की शोभा होती है और पायल पैरों की, ठीक वैसे ही प्यार दिल की शोभा है. दिल प्यार का ही घर है. इसमें, इस खूबसूरत मोहब्बत को ही बसे रहने दें, फिर एहसास होगा कि प्यार क्या होता है. मोहब्बत के घर में भला नफ़रत की आग की क्या जरूरत !

Read on Love Trainings : Love letter कैसे लिखें Love letter writing ideas

हम मुहब्बत के लिए बनें हैं

हम मुहब्बत के लिए ही बनें हैं. इस माटी के संसार में मुहब्बत की खुशबू को बिखेरने के लिए ही हमें लाया गया है. हम सिर्फ प्यार करने के लिए बनाए गए हैं. हमारी प्रकृति ही इश्क है. इश्क और सिर्फ इश्क के लिए ही हमारी रचना की गयी है. इश्क की यह मदहोश और मदमस्त कर देने वाली खुशबू में झूमने के लिए हम यहाँ लाये गए हैं.

pyar kaise kare

खूब झूमना और मोहब्बत में मगन रहना ही हमारी चाहत है. क्यों ज़ुल्म करें इस मासूम पर सिर्फ उस नफरत को खुश करने के लिए. नफरत शैतान है, दानव है नफरत जो हर वक्त हमें और हमारी मोहब्बत को निगलने के लिए व्याकुल रहती है. इस दानव रुपी नफरत पर हमारी ही जीत होती है और होती भी रहेगी. हमें इश्क है मोहब्बत से क्योंकि हम इंसान हैं.

Read on Love Trainings : Love quotes for Her in English and Hindi with Images

क्या आकर्षण से होता है प्यार ?

लोगों को अक्सर कहते सुना है कि आकर्षण से होता है प्यार. वे नहीं जानते कि प्यार क्या होता है. किसी महिला के खूबसूरत बालों से भी आकर्षण हो सकता है किसी पुरुष को. तो क्या बालों की आकर्षण से मोहब्बत हो सकता है उस आकर्षित पुरुष को ? क्या किसी खूबसूरत महिला की ख़ूबसूरती के आकर्षण से इश्क हो सकता है उस आकर्षित पुरुष को ? क्या किसी पुरुष के गठीले शरीर और उसके आकर्षक व्यक्तित्व से आकर्षित महिला को प्रेम हो सकता है ? कानों में मिश्री घोल देने वाली मधुर आवाज़ और निराले अंदाज़ का यह आकर्षण क्या मोहब्बत में बदल जाता है ?

pyar kya hota hai

Read on Love Trainings : लड़कियों से बात करने के तरीके Ladki se Baat Karne ke Tarike

इन सभी सवालों के जवाब अगर ‘हाँ’ है तो विश्वास कीजिये… जिसे प्यार समझा जा रहा है वह प्यार नहीं है. वह सिर्फ आकर्षण है. वह मोहब्बत नहीं, सिर्फ हासिल कर लेने की एक दीवानगी है. उन खूबसूरत बालों को हासिल करने की दीवानगी है. उस खूबसूरत चेहरे या आकर्षक शरीर को पा लेने का एक जूनून है. इसे मोहब्बत तो बिलकुल भी नहीं कह सकते. क्योंकि मोहब्बत का रंग एक ऐसा रंग है जो एक बार चढ़ जाए तो जीवन लीला समाप्त हो जाने के बाद ही उतरती है.

Read on Love Trainings : लड़की क्या चाहती है What does a Girl Want

बालों की वो खूबसूरत लटें कल शायद ना रहे. वो लहराती काली घटा जैसी खूबसूरत जुल्फें महज़ कुछ दिनों की ही मेहमान होती हैं. सिर पर सजे खूबसूरत जुल्फों की खूबसूरती एक दिन वक्त की धूप में मुरझा जाएगी. चेहरे पर विराजमान ये पतले रसीले होंठ और गुलाबी गालों की रंगत, वक्त की धूप में झुलस कर नीरस और बेरंग हो जाएंगे. तब न यह आकर्षण रहेगा और ना ही इस आकर्षण को प्रेम समझ लेने वाला प्रेम. रह जाएंगे सिर्फ अफ़सोस और पश्चाताप. आकर्षण को ही प्यार समझ लेना महज़ एक भूल है और कुछ भी नहीं. आकर्षण को ही प्यार समझ लेने वाले लोगों को नहीं पता कि प्यार क्या होता है.

Read on Love Trainings : True love is hard to find, परमात्मा के जैसा है सच्चा प्रेम

देह के मिलन से नहीं होता है प्यार

देह के मिलन से अगर मोहब्बत के द्वार को खोला जा सकता, तो हर परिवार में शांति और समृद्धि होती, क्योंकि उस परिवार के पति-पत्नी के बीच सिर्फ मोहब्बत होती और जहाँ मोहब्बत है वहीं तो है शांति. देह के मिलन के माध्यम से हम इश्क की तलाश करते रहते हैं. देह के मिलन के माध्यम से हम दिल में उतरने की चाह रखते हैं, यह एक छलावा है. मृगमरीचिका के जैसी चमचमाता हुआ छलावा. महज़ इसलिए ऐसा करते हैं क्योंकि नहीं जानते कि प्यार क्या होता है.

pyar

 

देह के मिलन से दिल नहीं मिलते, मिलती हैं साँसें… देह के मिलन से साँसों का साँसों से मिलन होता है, दो जिस्मों का मिलन होता है… दोनों जिस्मों के अंग एक दूसरे में समां जाते हैं… जो निश्चित रूप से एक अद्भुत आनंद देता है… सचमुच एक परम आनंद का एहसास… शायद इस दुनिया में, इस प्रकृति में, जिस्मों के मिलन के आनंद जैसा कोई दूसरा आनंद है ही नहीं, लेकिन हमारा दुर्भाग्य है कि यह आनंद सिर्फ जिस्मों के मिलन तक ही सीमित रहता है क्योंकि जिस्मों का मिलन क्षणिक होता है. इसलिए यह आनंद और यह मोहब्बत भी क्षणिक ही हैं क्योंकि अंगों में अंग समा चुके हैं लेकिन दिलों का संगम नहीं हो सका. ये महज़ इसलिए करते हैं क्योंकि नहीं पता कि प्यार क्या होता है.

Read on Love Trainings : How to compliment Girl to Impress Her

प्यार की तलाश

बाहरी खूबसूरती से प्यार करना ठीक वैसा ही है जैसा किसी से दिल मिलाने के लिए उसके सीने से लगना; सीने को मिलाने के लिए दो जिस्मों का जुड़ना. दो दिलों को मिलाने के लिए, उन्हें एक दूसरे से जोड़ने के लिए, सीने का जुड़ाव सिर्फ एक धोखा है. उन्हें एक-दूसरे में समाने के लिए दो जिस्मों का संगम करना अपने ही दिल के साथ किया गया एक प्यारा सा धोखा है. जिन्हें हम समझते हुए भी नहीं समझना चाहते. नहीं समझना चाहते कि प्यार क्या होता है. समझते भी हैं, तो इसे स्वीकार नहीं करना चाहते. हमें जिस्म की खूबसूरती में प्यार की तलाश होती है. क्योंकि नहीं जानते कि प्यार क्या होता है. ख़ूबसूरती तो ख़ूबसूरती ही है ! चाहे शरीर की हो या फूलों की या फिर बाजार के हैंगर में टंगे खूबसूरत और आकर्षक कपड़ों की. कपड़ों से प्यार करके दिलों को नहीं मिलाया जा सकता.

प्यार की तलाश

उनके दिल तक पहुँचने के लिए, मुझे उनको छूना होगा. मेरे सीने को उनके सीने से जोड़ना होगा, क्योंकि सीने के रास्ते ही दिल मिल सकेंगे. पर सीने के मिलने से दिल कैसे मिल पाएंगे ? नहीं मिल पाते हैं दिल. काश ऐसा भी हो पाता ! कई प्रेमियों को हमने देखें हैं, एक दूसरे की मोहब्बत पाने की चाहत में परेशान. सीने के रास्ते दिल में उतरने की उनकी कई कोशिशें देखी गयी है. अफ़सोस कामयाबी किसी को न मिली. उनके जिस्मों के मिलन होते रहे हैं. इन्हीं जिस्मों के माध्यम से उन्होंने इश्क चाहा था अपने मुहब्बत के लिए. उन्हें नहीं पता कि प्यार क्या होता है.

Read on Love Trainings : प्रेम को निःस्वार्थ और सेक्स को स्वार्थ कैसे कह सकते हैं!

दिलों के संगम से होता है प्यार

हम मोहब्बत हैं और हमें मोहब्बत ही चाहिए. मेरे दिल का प्यार किसी के इश्क की चाहत में बेचैन है. यह चाहता है उसके पास जाना, उसके पास जाने के लिए, मेरे प्यार को उतरना होगा, उस इश्क के घर में. उतरना होगा, उसके दिल में. उसके दिल में उतरने के लिए, मेरे दिल को उसके दिल से मिलाना ही होगा.

जब मिलेगा आपस में मेरा दिल और उसका दिल, एक संगम होगा. मेरे प्यार और उसके इश्क का मिलन होगा. इस खुशनुमां नज़ारे को देखकर खुश होंगे ये दोनों भी – मेरा दिल और उनका दिल. माटी का यह संसार तब स्वर्ग बन जाएगा. इंसान होते हुए भी देवताओं वाली फीलिंग्स होंगी, क्योंकि मेरा छोटा सा दिल तब दिलेर बन चूका होगा.

Read on Love Trainings : लड़कियों के बारे मे जानकारी और रहस्य जिन्हे हर कोई जानना चाहता है

प्यार पाने के लिए दिल कैसे लगाएं ?

अपने प्यार को उनके इश्क में डुबोने के लिए, ज़रूरत है अपने दिल को उनके दिल से लगाने की. दिल से दिल मिलाने की. दिल से दिल तभी मिल सकेंगे जब दोनों दिलों में मिलने की चाहत होगी. अपना दिल तो बेक़रार है उनके दिल में समाने के लिए, लेकिन इंतज़ार है अब उनके दिल की इज़ाज़त की. उनके दिल की इज़ाज़त तभी मिलेगी जब अपना दिल उनके दिल को अज़ीज़ लगेगा. अज़ीज़ तभी लगेगा जब हम उनको पसंद आएंगे. उनको हम तभी पसंद आएंगे, जब उनके दिल में हमारे लिए चाहत होगी.

what is love in hindi

Read on Love Trainings : ब्रेकअप के बाद रिवेंज और ब्लैकमेलिंग की एक सत्य घटना

उनके दिल में चाहत तभी होगी जब हम उनके दिल को खुश कर पाएंगे. और किसी को ख़ुशी तभी मिलती है जब उसके अनुसार हम खुद को ढाल पाते हैं. उनके मन के मीत तभी बन पाएंगे जब हम उनके मन का दास बन जाएंगे. उनके मन का दास बनकर उनके हर आदेश का पालन करेंगे. जब उनका मन खुश होगा तो हमें रास्ता देगा. रास्ता देगा हमारे दिल को उनके दिल तक पहुँचने का और फिर हो सकेगा दोनों दिलों का मिलन. जब दिल मिलेंगे तब होगा अपने प्यार का उनके इश्क में संगम.

Read on Love Trainings : Teenage Love को ऐसे से Handle करें

जब तक प्यार को हम गलत भावनाओं और दूषित मानसिकताओं से लेते रहेंगे, हमारी ज़िन्दगी नीरस और निरर्थक ही रहेगी. महापुरुषों की मानें तो प्यार को ढूँढने की कोशिश करना एक व्यर्थ प्रयास है. प्यार को ढूँढना, प्यार को देखना, हवा को ढूँढने और देखने के समान है. प्यार को महसूस करके समझ सकते हैं कि प्यार क्या होता है. एक सुखी और संपन्न ज़िन्दगी के लिए हमें प्यार को समझना ही होगा.

 

प्रेम क्या है ? प्यार पर और विशेष जानकारी के लिए Click here.

Advertisements

Leave a Reply