Husband-wife में Friendship होनी चाहिए या नहीं

Husband-wife में friendship होनी चाहिए या नहीं इस पर कई मतभेद हैं. कहने को शादी सभी करते हैं, शादी के बाद की सभी ज़िम्मेदारियों को भी निभाते हैं. लेकिन husband-wife रिलेशनशिप के कई पॉइंट्स में कन्फ्यूज़्ड रहते हैं. रिलेशनशिप में friendship पर, अलग-अलग मैरिड कपल्स के अपने-अपने पॉइंट्स हैं.

  • “मेरा husband मेरा सबसे अच्छा friend है. मैं किसी और की तुलना में husband के साथ अपना अधिक समय बिताना पसंद करूंगी”.
  • “मेरी wife बहुत अच्छी है. मैं उसके साथ उन चीज़ों के बारे में बात कर सकता हूँ, जो अपने friends से नहीं कर सकता. वह मेरी सबसे अच्छी दोस्त है”.
  • “मैं अपनी महिला मित्रों से वो बातें कर सकती हूँ, जिन्हे मेरे husband कभी नहीं समझ सकते”.
  • “मेरी wife बहुत अच्छी है. लेकिन मेरे बहुत से इंट्रेस्ट्स ऐसे हैं, जिन्हे वो खुद के साथ शेयर करने नहीं देती. मैं अपने इंट्रेस्ट्स हमेशा अपने friends के साथ शेयर करता हूँ”.
  • “सेक्स के प्रति मैं बिल्कुल खुले विचार रखता हूँ. इसका एक लाभ यह है कि मेरी wife मेरी सबसे अच्छी दोस्त है. हमलोग सेक्स को भरपूर एन्जॉय करते हैं. हम आपस में कुछ भी या ये कहें हर तरह की बातें खुल कर करते हैं”.
  • “Friendship में सेक्स जैसे महत्वपूर्ण सम्बन्ध लाना मुझे पसंद नहीं है क्योंकि ऐसा सम्बन्ध marriage life को बर्बाद कर सकता हैं”.

ये ऐसे पॉइंट्स है, जो एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हैं. हर पॉइंट के अपने-अपने विचार हैं. अब क्या ऐसे में हम कह सकते हैं कि husband-wife बहुत अच्छे दोस्त बन सकते हैं! इन टॉपिक्स पर गौर करें तो एक नयी बात सामने आती है. जो husband-wife आपस में खुलकर रहते हैं, खुल कर बातें करते हैं; उनके रिश्ते में, दोस्ती का रिश्ता भी जुड़ जाता है. उनकी मैरिड लाइफ सेक्शुअली और इमोशनली अधिक संतुष्ट होती है.

Husband-wife के बीच friendship होनी चाहिए

Husband-wife के बीच friendship होनी चाहिए. स्पष्ट कर दूँ, मैं यहाँ सबसे अच्छे दोस्त की बात कर रहा हूँ. जो सभी ज़रूरतों को समझे और उसे प्राथमिकता दे. जब husband-wife, पहली बार अपने लाइफ पार्टनर से मिलते हैं, दोनों के ही अपने-अपने व्यक्तिगत जीवन और विचार रहे हैं, दोनों ही अपनी-अपनी दिलचस्पी के अनुसार अपनी लाइफ को एन्जॉय करते आये हैं. हो सकता है दोनों में से एक की लाइफ दूसरे से अधिक आकर्षक रही हो. उनके जीवन में ऐसे भी दोस्त रहें हों, जो उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण थे.

Read : पति पत्नी के रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए इन आदतों को त्याग दें

अपनी शादी के बाद husband-wife दोनों एक-दूसरे के साथ समय बिताते है. एक-दूसरे के विषय में जानने की उत्सुकता रखते हैं. शादी के बाद सभी कपल्स को एक-दूसरे को जानने या समझने के लिए कुछ समय की ज़रूरत होती है. कुछ ऐसे लम्हों की ज़रूरत, जिसके दरम्यान एनर्जी, जुनून, कामुकता और शांति हो.

Read : एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर क्यों होते हैं ? Extramarital affair in India

Steps for friendship in husband-wife

  •    सामाजिक बंधन जैसे सम्बन्ध के बीच दोस्ती जैसे सम्बन्ध के लिए समय और धैर्य की ज़रूरत होती है.
  •    हफ्ते में एक दिन निकालें अपने रोमांटिक लम्हों के लिए.
  •    अपने पार्टनर की रूचि को जाने, पता करें कि वे किस बारे में भावुक हैं. उनके emotions को समझें.
  •    एक-दूसरे की पर्सनल लाइफ को ख़ुशी-ख़ुशी स्वीकार करें.
  •    एक-दूसरे का समर्थन करें.
  •    दोनों एक-दूसरे के सामर्थ्य को सराहें.
  •    एक दूसरे के साथ पारदर्शी रहें.

विश्वास कीजिये, करके देखिये, बहुत अच्छा लगेगा. Husband-wife में friendship का रिश्ता जुड़ जाए, तो जिंदगी आसान हो जाती है.

 

Advertisements

इस विषय पर हमारी कोशिश कैसी लगी आपको ? अगर पसंद आयी तो अपने दोस्तों से भी इसे share करें. आपको लगता है कि इस विषय पर कुछ और जुड़ना चाहिए तो ज़रूर बताएं… इस पोस्ट के पढ़ने वाले सभी लोगों को इस विषय पर आप भी कुछ कहें. हो सकता है आपके Comment से किसी का भला हो जाए… और हाँ हमारे Facebook पेज को Like करना ना भूलें. आप देखना आपके खूबसूरत Love Life के लिए हम Lucky Charm साबित होंगे. Wish U happy life… 🙂