Husband wife के बीच मनमुटाव होना या खिट-पिट होना, बहुत बड़ी बात नहीं है. लगभग सभी घरों में ऐसा होता है. इस तरह के मनमुटाव का एक basic reason, physical relations को भी माना गया है. Husband wife के बीच physical relations में जब ताल-मेल अच्छे नहीं होते. आये दिन नयी-नयी परेशानियां, उनके जिंदगी में आते रहते हैं. कभी-कभी बात इतनी बढ़ जाती है कि husband का wife के लिए हिंसक हो जाना या गाली-गलौज जैसी नौबत आ जाते हैं.

देखे गए हैं कि husband-wife के बीच कलेश का एक मुख्य वजह physical relations यानी sex भी है. ऐसा इसलिए है क्योंकि husband का sex के प्रति अधिक झुकाव होना और wife का कम. जब husband को physical relations की जरूरत होती है तब wife को नहीं होती. इसलिए वह मना कर देती है. जब मना करती है तो ऐसे में husband को बुरा लगना भी स्वाभाविक ही है. पर ऐसा क्यों है के physical relations या sex के प्रति husband का ही अधिक झुकाव होता है! क्या कोई बायोलॉजिकल reason है?

अगर बायोलॉजिकल है, तो husband की मजबूरी है. अगर नहीं तो फिर?

Physical relations की इच्छा का होना बायोलॉजिकल से अधिक साइकोलॉजिकल है. वो इसलिए कि जहाँ इच्छा की बात है, तो इच्छा सिर्फ साइकोलॉजिकल होता है. इच्छा होने के लिए, वक्त का होना भी जरूरी है. क्योंकि इच्छा तभी होगी जब कोई उस विषय पर सोचेगा. सोचने के लिए भी वक्त का और माहौल का होना जरूरी है. इस तरह के वक्त husbands को मिलते हैं. क्योंकि husbands की रूटीन और एक house wife की रूटीन में फर्क है. वक्त के भी फर्क हैं. माहौल के भी फर्क हैं. नो डाउट मूड के भी फर्क है. क्योंकि, रेस्पॉन्सिबिलिटीज़ की वेरायटीज अलग-अलग हैं.

रेस्पॉन्सिबिलिटीज़ के अधिक भार working place पर होते हैं. Husband का working place घर से बाहर होता है. Wife का working place घर में. अब चुकी जहाँ work है, वहां रेस्पॉन्सिबिलिटीज़ हैं. इस वजह से husband घर में कूल और रिलैक्स्ड होते हैं. कुछ भी सोचने के लिए उनके पास भरपूर वक्त होता है.

Husband से ठीक विपरीत wife की रेस्पोंसिलिटीज़ होती है. एक स्त्री को घरवालों और बच्चो की देख-रेख के साथ अपने दाम्पत्य जीवन का भी ध्यान रखने होते हैं. माँ बनने के बाद स्त्री का ध्यान अपने बच्चे के प्रति अधिक आकर्षित होती है और उनके हेल्थ में भी फर्क आने लगते हैं. ऐसी अवस्था में सेक्स के प्रति दिलचस्पी कम होने लगते हैं. जिसे husbands कुछ और ही समझने लग जाते हैं. Husband को लगता है कि उसकी wife अब उसके करीब आने से कतराने लगी है. उन्हें भ्रम होने लगता है कि उनकी wife उन्हें इग्नोर करने लगी है. परिणाम शक के रूप में प्रकट होने लगते हैं. Wife के इस बर्ताव से husband अक्सर गुस्से और तनाव में रहने लगता है. फिर दोनों के बीच दूरियां बढ़ने लगती हैं.

अब ऐसे में, क्या husband को यह समझने की जरूरत नहीं है कि उसकी wife भी उसके तरह ही एक इंसान है. Physical relations या सेक्सुअल बातें मन में तभी आते हैं जब उस तरह के माहौल मिलें. उस तरफ सोचने का वक्त मिलें. लेकिन husband के ठीक विपरीत परिस्थिति wife की होती है. उनकी रेस्पॉन्सिबिलिटीज़ उनकी व्यस्तता के वजह से उन्हें पल भऱ का भी शकुन नहीं होता. इस अवस्था में कैसे कोई कल्पना भी कर सकता है कि physical relations जैसे ख्याल मन में आयेंगें. Husband का भी कर्तव्य है कि wife के मानसिक स्थिति को समझे.

जो जिम्मेदारियां wife की है, उसे husband खुद पर महसूस करें तो समझ आएगी. अगर wife थकी है या अस्वस्थ है तो ऐसे में क्या वो एकतरफा सेक्स को एन्जॉय कर पाएगी? बिना सेक्सुअल फीलिंग्स के क्या वह physical relations में अपने husband का साथ दे सकेगी?

सामन्यतः होता क्या है! Husband का मन कर गया कुछ रूमानी हो जाए. वह physical relations के लिए wife को तैयार कर लेते हैं. Physical relations में जब wife खुल कर उनका साथ नहीं दे पाती हैं, तो husband को बुरा लगता है. समझने की बात है sexual desires husband की थी, wife की नहीं. जब wife की desires नहीं थी, तो वह कैसे एन्जॉय कर सकेगी उन लम्हों को?

Options for the Physical Relations

वैसे सेक्स विशेषज्ञों ने सप्ताह में तीन दिन physical relations को शरीर व मस्तिष्क के लिए सर्वोत्तम माना है. अब ऐसे में wife को अपने दूसरे पहलु पर भी ध्यान देना चाहिए. थकान मिटाने के लिए जरूरी नहीं है कि सिर्फ आराम किये जाएँ. दूसरे ऑप्शन को भी इस्तेमाल किया जा सकता है. दूसरे ऑप्शन में husband भी खुश और wife भी खुश. क्योंकि दूसरा ऑप्शन physical relations का है. Wife कितनी ही थकी हुई हों! लेकिन husband के साथ बिताए ये लम्हे सेक्स से अधिक भावनात्मक सुरक्षा, प्यार और लगाव का अहसास कराने में सहायक होगा. जो सुखद शादीशुदा जिंदगी के लिए बेहद जरूरी है.

Physical Relations after Maternity

आमतौर पर बच्चे के जन्म के बाद स्त्री के स्वभाव में परिवर्तन आने लगते हैं. Wife का सेक्स में अधिक दिलचस्पी नहीं होने का कारण उनके शरीर और मस्तिष्क का बंटना भी है. अर्थात physical relations के समय वो मानसिक रूप से तैयार नहीं होती हैं. जिस कारण husband का उत्साह फीका रहता है. लेकिन इस प्रकार के परिवर्तन के दौरान wife को अपने husband की भावनाओं को भी समझना होगा. Husband-wife मिलकर इस पर बात करें और सप्ताह में एक दिन निर्धारित करें और दोनों अपने-अपने काम के दबाव से मुक्त होकर physical relations को एन्जॉय कर सकें.

Responsibilities of wife for Physical Relations

Wife को भी अपनी सभी जिम्मेदारियों की तरह, इस जिम्मेदारी को भी सीरियसली लेने चाहिए. अपने husband के भावनाओं और जरूरतों का ख्याल रखें. एक समझदार wife अपने husband के मूड और जरूरतों को समझती है. वह जानती है कि अपने husband को उसके इच्छा अनुसार कैसे खुश किया जा सकता है. वह जानती है कि husband की इच्छा अगर घर में पूरी नहीं होगी तो वह अपनी इच्छाओं की पूर्ति के लिए किसी दूसरी स्त्री के पास भी जा सकता है. Husband दूसरी औरत से संबंध तभी बनाता है, जब उसे अपनी wife का साथ नहीं मिलता. फिर कुछ बाजारू औरतें पैसे लेकर उसकी physical needs पूरी करने लगती हैं.

इसका परिणाम होता है, physical relations के लिए husband का अपनी wife के प्रति रुचि कम होने लगते हैं. जो एक सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए बिलकुल भी सही नहीं है. इस परिस्थिति में पारिवारिक जीवन बिखरने लगते हैं.

Good effects of Physical Relations

जिस husband-wife के बीच physical relations अच्छे होते हैं. उनके बीच बंधन भी उतना ही मजबूत होता है. अच्छे सेक्स लाइफ वाले दंपत्ति में तनाव से लड़ने की शक्ति कहीं अधिक होती है. बनिस्पत उन दंपत्तियों के जिनका सेक्स लाइफ रूखा, बोरियत भरा और बोझिल होता है. सेक्स में आई नीरसता दांपत्य संबंधों की ताजगी को खत्म कर देता है. विशेषज्ञों के अनुसार यदि husband-wife के बीच physical relations में आपसी तालमेल न हो तो दोनों का साथ-साथ चलना मुश्किल हो जाता है.

Advertisements

इस विषय पर हमारी कोशिश कैसी लगी आपको ? अगर पसंद आयी तो अपने दोस्तों से भी इसे share करें. आपको लगता है कि इस विषय पर कुछ और जुड़ना चाहिए तो ज़रूर बताएं… इस पोस्ट के पढ़ने वाले सभी लोगों को इस विषय पर आप भी कुछ कहें. हो सकता है आपके Comment से किसी का भला हो जाए… और हाँ हमारे Facebook पेज को Like करना ना भूलें. आप देखना आपके खूबसूरत Love Life के लिए हम Lucky Charm साबित होंगे. Wish U happy life… 🙂